February 29, 2024

हाल ही में नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) ने मुगल साम्राज्य पर अध्यायों को हटाकर कक्षा 12 की इतिहास की किताब को संशोधित किया है।

इससे केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE ), उत्तर प्रदेश और (NCERT ) का पालन करने वाले STATE BOARD सहित सभी boards का पाठ्यक्रम प्रभावित होगा। 2023-24 शैक्षणिक वर्ष के लिए NCERT द्वारा तर्कसंगत पाठ्यक्रम पेश किया गया है।



NCERT ने मुगल दरबार (16th और 17th centuries) ‘राजाओं और इतिहास’ से संबंधित अध्यायों और विषयों को इतिहास की किताब ‘थीम्स ऑफ इंडियन हिस्ट्री-पार्ट से हटा दिया है|

Hindi और Civics की books में भी होंगे changes

NCERT हिंदी की पाठ्यपुस्तकों से भी कुछ कविताएं और पैराग्राफ को भी हटा सकती है | इतिहास के साथ-साथ कक्षा 12वीं की नागरिक शास्त्र की किताब को भी संशोधित किया गया है। एनसीईआरटी ने किताब से ‘अमेरिकन हेगेमनी इन वर्ल्ड पॉलिटिक्स’ और ‘द कोल्ड वॉर एरा’ शीर्षक वाले दो चैप्टर हटा दिए हैं।

और भी subjects के चैप्टर में होगा बदलाव

इसके अलावा, 12वीं कक्षा की पाठ्यपुस्तक ‘इंडियन पॉलिटिक्स आफ्टर इंडिपेंडेंस’ से ‘राइज ऑफ पॉपुलर मूवमेंट्स’ और ‘एरा ऑफ वन पार्टी डोमिनेंस’ चैप्टर भी हटा दिए गए हैं।

NCERT ने 10वीं और 11वीं के पाठ्यक्रम में भी किया बदलाव,Topics like Central Islamic Lands, ‘Cultures of Cultures’ and ‘Industrial Revolution’ को हटा दिया गया है from class 11th textbook ‘Themes in World History’.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया से बात चित में बताया कि, नए पाठ्यक्रम और पाठ्यपुस्तकों को इस साल से अपडेट किया गया है और विभिन्न स्कूलों में लागू किया जा रहा है।

अब यह विषय बहस का मुद्दा बनती जा रही है, हम सबको आए वाले समय में ही पता लगेगा इसका सही IMPACT स्टूडेंट्स, स्कूल और सोसाइटी पैर क्या पड़ेगा |

Vijay Laxmi Rai

What does 7 Days of Valentine means? LIFE CHANGING SPORTS QUOTES 4 Guinness World Records BTS broke in 2022 Sustainability Tips for Living Green Daily Quote of the day