June 20, 2024

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का दूसरा चरण चल रहा है. इस यात्रा के जम्मू-कश्मीर पहुंचने से पहले शुक्रवार (आज) को बड़ा सियासी घटनाक्रम सामने आया. दरअसल, गुलाम नबी आज़ाद के कांग्रेस छोड़ने के बाद पार्टी को अलविदा कहने वाले 17 नेताओं ने दोबारा कांग्रेस का दामन थाम लिया है. इसमें पूर्व डिप्टी सीएम ताराचंद समेत कई दिग्गज नेता शामिल हैं.

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने इस मौके पर कहा कि ये कांग्रेस के लिए बड़ा दिन है. भारत जोड़ो यात्रा के जम्मू -कश्मीर जाने से पहले ये बड़ी बात है. वहीं, गुलाम नबी आजाद को लेकर उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस की विचारधारा के साथ है और जो भारत जोड़ो यात्रा में आना चाहते हैं, वो आ सकते हैं.



17 बड़े नेताओं के कांग्रेस में दोबारा शामिल होने के बाद जयराम रमेश ने हर्ष जताते हुए कहा कि किसी ने भी पार्टी नहीं छोड़ी थी, बल्कि छुट्टी पर गए थे, अब छुट्टी से वापस आ गए हैं. वहीं, जम्मू-कश्मीर कांग्रेस की प्रभारी रजनी पाटिल ने कहा कि सुबह का भूला शाम को घर वापस आ जाए तो उसे भूला नहीं कहते|

पूर्व डिप्टी सीएम ताराचंद ने कहा कि हमने जल्दबाजी में फैसला लिया था. आज लगता है कि जिस पार्टी ने हमें सब कुछ दिया, उसके साथ रहना चाहिए. हमें गुमराह किया जा रहा था. धर्मनिरपेक्ष पार्टी को कमज़ोर करने का काम हो रहा था.

जम्मू-कश्मीर के ये 17 नेता दोबारा कांग्रेस में हुए शामिल

  1. ताराचंद (पूर्व उपमुख्यमंत्री, अध्यक्ष और नेता सीएलपी जम्मू-कश्मीर राज्य, पूर्व उपाध्यक्ष डीएपी)
  2. पीरजादा मो. सईद (पूर्व पीसीसी अध्यक्ष, 3 बार जम्मू-कश्मीर के राज्य मंत्री, पूर्व उपाध्यक्ष डीएपी)
  3. ठाकुर बलवान सिंह (पूर्व विधायक एवं पूर्व महासचिव डीएपी)
  4. मो. मुजफ्फर पर्रे (पूर्व एमएलसी और सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट, पूर्व सदस्य कार्य समिति डीएपी)
  5. मोहिंदर भारद्वाज (वरिष्ठ वकील जम्मू-कश्मीर और लद्दाख उच्च न्यायालय, 3 बार अध्यक्ष बार एसोसिएशन जम्मू, पूर्व सदस्य कार्य समिति डीएपी)
  6. भूषण डोगरा (पूर्व उपाध्यक्ष अनुसूचित जाति सलाहकार बोर्ड जम्मू-कश्मीर सरकार मंत्री पद के साथ)
  7. विनोद शर्मा (पूर्व अध्यक्ष कांग्रेस सेवादल जम्मू-कश्मीर, पूर्व महासचिव पीसीसी जम्मू-कश्मीर पूर्व जिलाध्यक्ष डीएपी)
  8. नरिंदर शर्मा (पूर्व सचिव पीसीसी जम्मू-कश्मीर, पूर्व महासचिव डीएपी)
  9. नरेश शर्मा (2 बार पूर्व अध्यक्ष नगर परिषद कठुआ, पूर्व सचिव पीसीसी)
  10. अंबरीश मगोत्रा (पूर्व अध्यक्ष नगर परिषद कटरा पूर्व सचिव पीसीसी जम्मू और कश्मीर)
  11. सुभाष भगत (पूर्व अध्यक्ष डीसीसी सांबा पूर्व महासचिव डीएपी)
  12. श्रीमती संतोष मन्हास (सचिव डीएपी)
  13. बद्रीनाथ शर्मा (पूर्व संस्थापक सदस्य डीएपी)
  14. वरुण मगोत्रा (पूर्व महासचिव युवा कांग्रेस और वरिष्ठ युवा नेता डीएपी)
  15. अनुराधा शर्मा (वरिष्ठ महिला नेता डीएपी)
  16. विजय तारगोत्रा (प्रखंड विकास अध्यक्ष हीरानगर)
  17. चंदर प्रभा शर्मा (वरिष्ठ महिला नेता डीएपी)

PK_Newsdesk

What does 7 Days of Valentine means? LIFE CHANGING SPORTS QUOTES 4 Guinness World Records BTS broke in 2022 Sustainability Tips for Living Green Daily Quote of the day