April 20, 2024

डिजिटल उपकरणों से घिरी दुनिया में रहना निश्चित रूप से एक वरदान और ज़रूरत भी हो गई  है। हालाँकि, इसके फायदे है तो बहुत सारे  नुकसान भी देखने को मिलते रहते है  बहुत सारे  पेरेंट्स जब बच्चो  को पहली बार मोबाइल देते है तब यह सोचते है के की बच्चा थोड़ी देर ryhmes  देखेगा कार्टून देखेगा तो उसका मन लगा रहेगा और घर के काम भी निपट जायेगा  | पर उस वक़्त का मोबाइल,टेबलायड, IPAD बच्चो को देना  एक बुरा मोड़ ले सकता है, जब वही गैजेट्स एक मजबूरी बन जाते हैं, और स्मार्टफोन की लत सिर्फ अब वयस्कों में ही नहीं बल्कि बच्चों में भी बेहद आम हो गई है।

राष्ट्रीय सुरक्षा आयोग द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार लगभग 23.80% बच्चे बिस्तर पर सोने से पहले स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं और 37.15% बच्चे स्मार्टफोन के उपयोग के कारण हमेशा या बार-बार एकाग्रता के स्तर में कमी का अनुभव करते हैं। 2019 में प्रकाशित एक अन्य अध्ययन ने 2011 और 2017 के बीच प्रकाशित 41 अध्ययनों का मूल्यांकन किया और सुझाव दिया कि 23% बच्चों में “समस्याग्रस्त स्मार्टफोन उपयोग” है जो मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालता है।
इसलिए, ये खतरनाक आंकड़े समस्या का समाधान करने और बच्चों को स्मार्टफोन कैसे कम से कम  इस्तेमाल करने दिया जाए इसपर विचार करने पर मजबूर करते है |



स्मार्टफोन की लत का खतरा

calm small ginger girl sitting on table and using smartphone in light living room
Photo by Andrea Piacquadio on Pexels.com

जैसा कि चर्चा है, स्मार्टफोन पर ज्यादा समय बिताने से बच्चों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। व्यवहार संबंधी समस्याओं, नींद की गड़बड़ी, अवसाद, मोटापा, धीमी सामाजिक विकास कौशल ,किसी कार्य को लगातार और बार-बार करने की इच्छा को संदर्भित करता है।जैसे  बार-बार फोन की जांच करना, फ़ोन टूट जाने का  डर , हमेशा बैटरी खोने या चार्जर भूल जाने आदि के बारे में चिंतित रहना।

सचेत हो जाए  संकेत से 

children lying on sofa and using gadgets
Photo by Jessica Lewis Creative on Pexels.com
  • बच्चे को अनिद्रा या नींद आने में दिक्कत होना
  • बच्चे फोन को लेकर चिंता या लगातार चिंता करना
  • बच्चे के वेव्हार में ज़ादा क्रोध और आक्रामकता
  • बच्चे में स्मार्टफोन को लेके अनिवार्यता
  • सेल्फ-आइसोलेशन और अपनों से खुद को दूर करना
  • बच्चे को अपना फोन न मिलने पर परेशान होना


स्मार्टफोन पर अत्यधिक निर्भरता से बच्चों को दूर करने में कैसे मदद करें

woman in black framed eyeglasses
Photo by Kampus Production on Pexels.com
  • –  कुछ ऐसा समय निर्धारित करे जिसमे सारे  परिवार के लोग एक साथ बैठे और उस वक़्त स्क्रीन बिलकुल न चले   |
  • – एक सख्त स्मार्टफोन शेड्यूल महत्वपूर्ण है , एक टाइम बनाये जिसमे उतने ही देर के लिए मोबाइल इस्तेमाल के लिए मिलेगा |
  • – बच्चो को  सोते समय मोबाइल  फोन का इस्तेमाल करने से रोकें।
  • – स्क्रीन समय सीमा तय करें|
  • -स्मार्टफोन का उपयोग इनाम या व्याकुलता के रूप में न करें|
  • – अपने बच्चो के रूचि के बारे में जाने और उनके साथ कोई गेम खेले जैसे कैरम बोर्ड, चैस ,लूडो आदि
  • – स्मार्टफोन के इस्तेमाल पर उन्हें लेक्चर न दें बल्कि फायदे और नुकसान बताएं |

अच्छे उदाहरण सेट करें

man standing beside his wife teaching their child how to ride bicycle
Photo by Agung Pandit Wiguna on Pexels.com

माता-पिता के रूप में, आपको यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि आप गलत उदाहरण स्थापित न करें। वयस्क भी उतने ही सक्षम हैं जितने कि बच्चे फोन के आदी हो जाते हैं। इसलिए जब आप अपने बच्चों के सामने हों, तो अपने फोन का इस्तेमाल करने से बचें और उनके साथ ज्यादा क्वालिटी टाइम बिताएं।

शोधकर्ताओं का मानना है कि वयस्कों की तुलना में बच्चों पर मोबाइल फोन के रेडिएशन का ज्यादा असर होने की संभावना है। चूंकि बच्चों का सिर छोटा और खोपड़ी पतली होती है, इसलिए इन गैजेट्स से निकलने वाले रेडिएशन को मस्तिष्क में गहराई तक प्रवेश करने में आसानी होती है। साथ ही, बच्चे मोबाइल फोन से अधिक प्रभावित हो सकते हैं क्योंकि उनका दिमाग अभी भी विकसित हो रहा होता है। बच्चों पर मोबाइल फोन के हानिकारक प्रभावों पर अधिक प्रकाश डालने वाले नए शोध के साथ, कई देशों ने मोबाइल फोन का उपयोग करने वाले बच्चों के खिलाफ चेतावनी जारी की है। अब समय आ गया है कि हम अपने बच्चों को इन उपकरणों के हानिकारक प्रभावों से बचाने के उपाय करें।

हालांकि एक स्मार्टफोन वास्तव में सुविधा का एक गैजेट है जिसे आप और आपका बच्चा अपने गैजेट के उपयोग को कितनी अच्छी तरह से नियंत्रित करते हैं, इसका लाभ उठाने के लिए खड़े हैं। इसलिए, मोबाइल को एक तरफ रख दें और कुछ क्वालिटी फैमिली टाइम बिताएं।

PK_Newsdesk

What does 7 Days of Valentine means? LIFE CHANGING SPORTS QUOTES 4 Guinness World Records BTS broke in 2022 Sustainability Tips for Living Green Daily Quote of the day