स्वास्थ्य के लिए काली मिर्च के ये 14 फायदे, कर देंगे आपको हैरान


भारतीय मसालों में काली मिर्च का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। मगर इसमें मौजूद औषधीए गुण जहां स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखते हैं वहीं इसके कई ब्यूटी से जुड़े फायदे भी है।स्वास्थ्य और ब्यूटी से जुड़े परेशानियों के लिए काली मिर्च रामबाण इलाज है। तो चलिए जानते हैं किस तरह काली मिर्च के इस्तेमाल से आप अपनी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

काली मिर्च के गुण

काली मिर्च औष‍धीय गुणों से युक्‍त एक मसाला है जो स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से बहुत फायदेमंद है। पिपरीन नामक तत्‍व के कारण इसका स्‍वाद सबसे अनोखा है। काली मिर्च में आयरन, पोटैशियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जिंक, क्रोमियम, विटामिन ए और सी, और अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

काली मिर्च की तासीर

काली मिर्च की तासीर गर्म होती है इसलिए यह स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है। मगर इसका अधिक सेवन शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है। ऐसे में नियमित मात्रा में ही काली मिर्च का सेवन करें।
काली मिर्च के स्वास्थ्य से जुड़े फायदे

जोड़ों के दर्द से राहत

सर्दियों में जोड़ों व मांसपेशियों में दर्द की समस्या अधिक देखने को मिलती है। ऐसे में इस दर्द को दूर करने के लिए आप रोज सुबह गुनगुने पानी के साथ 10-12 काली मिर्च का सेवन करें। इससे आप देखेंगे कि कितनी जल्दी आपको फर्क महसूस होता है।

पेट से जुड़ी परेशानियों से राहत

कालीमिर्च एंटीबैक्टीरियल की तरह काम करती है इसलिए इसके सेवन से पेट फूलना, अपच, दस्‍त, कब्‍ज और अम्‍लता आदि भी आसानी से दूर हो जाती है। साथ ही इससे पाचन क्रिया भी मजबूत होती है और यह भूख बढ़ाने का काम भी करती है।

मजबूत इम्यून सिस्टम

काली मिर्च में पर्याप्त मात्रा में फोलेट के साथ विटामिन सी भी होता है जो कि इम्यून सिस्टम बूस्ट करने के लिए लाभकारी होता है। गर्म पानी के साथ 1/4 चम्मच काली मिर्च पाउडर दिन में दो बार लेने से इम्यून सिस्टम बूस्ट होता है।

वजन भी घटाए

नियमित काली मिर्च का सेवन करने से वजन कंट्रोल में रहता है। इसमें फाइट न्यूट्रियंस होते हैं, जो वसा की बाहरी परत को तोड़ने का काम करते हैं। इससे शरीर में अतिरिक्‍त वसा जमा नहीं हो पाती है और वजन कंट्रोल में रहता है।

बवासीर रोग के लिए फायदेमंद

20 ग्राम काली मिर्च में 10 ग्राम जीरा और शक्कर या 15 ग्राम मिश्री मिलाकर पीस लें। इसे सुबह-शाम पानी के साथ लें। इससे आपको बवासीर की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

आंखें की रोशनी करें तेज

पूरे दिन कंप्यूटर या लैपटॉप के आगे बैठकर काम करने से आंखें खराब हो गई हैं तो काली मिर्च आपके लिए कारगर नुस्खा साबित होगा है। आधा चम्मच पिसी हुई काली मिर्च को थोड़े से घी के साथ रोज सुबह-शाम खाएं। इससे आंखों की रोशनी ठीक हो जाएगी। अगर आंखों में चश्मा लगा है तो वह भी उतर जाएगा।

तनाव को रखे दूर

काली मिर्च एक प्राकृतिक एंटी-डिप्रेशन है। अगर आप तनाव या अवसाद से ग्रस्‍त हैं तो नियिमत काली मिर्च का सेवन करें। इससे तनाव दूर होगा।

आयरन की कमी

काली मिर्च के सेवन से शरीर में आयरन की कमी दूर हो जाती है। यह यह मैंगनीज और आयरन जैसे पोषक तत्वों का बढ़िया स्रोत है।

सर्दी-खांसी से आराम

कालीमिर्च, सोंठ तथा छोटी पीपल का बराबर मात्रा में चूर्ण बनाकर एक से तीन ग्राम की मात्रा में शहद के साथ चाटने से खांसी और जुकाम दूर हो जाते हैं।

कैंसर से बचाव

काली मिर्च कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से शरीर की सुरक्षा करता है। शोध के अनुसार, काली मिर्च ब्रेस्‍ट कैंसर का खतरा काफी हद तक कम करती है। इसके नियमित सेवन से स्‍तन कैंसर की गांठ नहीं बनती है। साथ ही इसमें विटामिन्स फ्लैवोनॉयड्स, कारोटेन्‍स और एंटी-ऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं, जो कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।



काली मिर्च के ब्यूटी से जुड़े फायदे

एंटी-एजिंग की समस्याों को रखें दूर

जिनके चेहरे पर बढ़ती उम्र के निशान दिखने लगते हैं। वह इस फेसपैक को अपने चेहरे पर लगाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। इसे बनाने के लिए 2 टेबलस्पून दही में 1/2 टीस्पून काली मिर्च पाउडर अच्छी तरह से मिलाएं। फिर इसे कुछ समय चेहरे पर लगाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें।

सांवलेपन से निजात

यदि आपकी त्वचा के कुछ हिस्से ज्यादा डार्क है तो काली मिर्च के तेल और लोशन का पैक बनाकर इस पर अप्लाई करें। इसेस कुछ ही दिनों में आपको फर्क देखने को मिलेगा। इसे बनाने के लिए 100 मि.ली. बॉडी क्रीम या लोशन में 3 बूंदें काली मिर्च तेल की मिक्स करें। फिर इसे कुछ देर डार्क स्किन पर लगाने के बाद ताजे पानी से धो लें।

मुंहासों से छुटकारा

मुहांसों से छुटकारा पाने के लिए आप काली मिर्च का फेस पैक लगा सकते हैं। इसे बनाने के लिए 1 टीस्पून शहद में 1/2 टीस्पून काली मिर्च पाउडर अच्छी तरह से मिलाएं। अब इसे हल्के हाथों से चेहरे पर लगाएं और आधे घंटे बाद गुनगुने पानी से इसे धो लें।

बालों की रूसी

इसमें एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटी-फ्लेमेटरी तत्‍व होते हैं जो रूसी को दूर भगाने में मददगार होते हैं। काली मिर्च को एक कप दही में अच्‍छे से फेंटकर बालों की जड़ों में लगाएं। आधा घंटे बाद बालों को ताजे पानी से धो लें और दूसरे दिन शैम्‍पू करें। काली मिर्च का इस्‍तेमाल बहुत ज्‍यादा न करें क्योंकि इससे सिर की त्‍वचा खराब भी हो सकती है। हफ्ते में सिर्फ 1 बार ही इस पैक को लगाएं।

Facebook Comments

Leave a Reply

Copied!
%d bloggers like this: