बेरोजगारी से परेशान होकर 4 युवक ट्रेन के आगे कूदे, 3 की मौत


राजस्थान में बेरोजगारी का बेहद डरावना चेहरा सामने आया है, जहां नौकरी नहीं मिलने से बुरी तरह हताश 4 युवक जान देने के लिए ट्रेन के आगे कूद गए|इनमें से 3 की जान चली गई|

 चश्मदीदों के मुताबिक आत्महत्या करने जा रहे युवकों ने कहा कि नौकरी लगेगी नहीं, तो फिर जीवित रह कर क्या करेंगे?

सूबे के अलवर शहर में बुधवार को 6 दोस्तों ने नौकरी नहीं मिलने से परेशान होकर जान देने की प्लानिंग बनाई| इसके बाद चार लोग शहर के एफसीआई गोदाम के पास ट्रेन के आगे कूद गए| इनमें से 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया|

बाकी दो दोस्तों ने अंतिम समय में आत्महत्या के लिए ट्रेन के आगे कूदने का फैसला बदल दिया, जिसके चलते उनकी जान बच गई|




इन्होंने बताया कि आत्महत्या से पहले सभी का कहना था कि नौकरी तो लगेगी नहीं, जिसके चलते जिंदगी गुजारना मुश्किल है. ऐसे में जीवित रह कर क्या करेंगे? पुलिस इन दोनों से अभी पूछताछ कर रही है| आत्महत्या करने वाले युवकों में से एक सत्यनारायण मीणा ने घटना से कुछ घंटे पहले अपने फेसबुक अकाउंट पर हत्या का वीडियो- ‘माही द किलर’ को अपलोड किया था| इस वीडियो में युवक की हत्या का दृश्य है|

एसपी राजेंद्र सिंह के मुताबिक रानी के बालो को कलां निवासी 24 वर्षीय मनोज मीणा, बुचीपुरी निवासी 22 वर्षीय सत्य नारायण मीणा, बरेला निवासी 17 वर्षीय राज मीणा, टोडाभीम के खेड़ी निवासी 22 वर्षीय अभिषेक मीणा सूबे के अलवर में पढ़ाई कर रहे थे|

You may also like:  अलवर हत्‍या मामले पर गुलाब चंद कटारिया बोले- हर घटना को रोकने के लिए पर्याप्त जनशक्ति नहीं

ये चारों दोस्त अपने दो अन्य दोस्त संतोष मीणा और राहुल मीणा के साथ मिलकर जिले के श्याम रेलवे ट्रैक के पास बैठकर बातें कर रहे थे| इस दौरान इन सभी 6 लोगों के दिमाग में यह बात आई कि बिना नौकरी के जिंदगी गुजारना मुश्किल है| लिहाजा मौत को गले लगा लेना अच्छा है|

इसके बाद 4 दोस्तों ने यह दर्दनाक कदम उठाया|

मामले में पुलिस का कहना है कि पूरे घटना की तफ्तीश जारी है|

Facebook Comments

, , ,

Leave a Reply