इंडोनेशिया प्लेन क्रैश: दिल्ली के भव्य सुनेजा थे पायलट, 189 यात्री थे सवार


सोमवार सुबह इंडोनेशिया के जकार्ता में उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद ही जो प्लेन क्रैश हुआ उसे दिल्ली के भव्य सुनेजा उड़ा रहे थे।

 

लॉयन एयर बोइंग 737 विमान 189 यात्रियों को लेकर जकार्ता से पंगकल पिनांग जा रहा था। इंडोनेशिया की सर्च और रेस्क्यू एजेंसी ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही इसका संपर्क कट गया था। विमान के पायलट सुनेजा ने 2011 में इस एयलाइंस में नौकरी शुरू की थी।

विमान में एक दिन पहले आई थी तकनीकी खराबी

विमान कंपनी लॉयन एयर के सीईओ एडवर्ड सैट ने कहा कि रविवार को ही प्लेन में कुछ तकनीकी खराबी आई थी। तब प्लेन डेनपसार से जकार्ता आ रहा था। हालांकि, उन्होंने साफ किया कि इंजीनियरों ने खराबी को ठीक करने के बाद ही सोमवार सुबह प्लेन को रवाना किया। इंडोनेशिया एयर नेविगेशन के अधिकारी सिंदु रहायु ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि विमान के उड़ान भरने के बाद पायलटों ने लौटने की अनुमति मांगी, लेकिन इजाजत मिलने के ठीक बाद एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) का फ्लाइट से संपर्क टूट गया।

अब तक का सबसे बड़ा विमान हादसा हो सकता है

यह क्रैश इंडोनेशिया का सबसे बड़ा विमान हादसा हो सकता है। इससे पहले दिसंबर 2014 में एयर एशिया फ्लाइट क्यूजेड8501 क्रैश में 162 लोगों की मौत हो गई थी। हादसे का शिकार हुआ विमान बोइंग 737 मैक्स-8 था। हादसे की वजह अभी साफ नहीं है।




5000 फीट की ऊंचाई पर था प्लेन जब टूट गया संपर्क

दुनियाभर की उड़ानों की जानकारी रखने वाली वेबसाइट फ्लाइटरडार के डेटा में लॉयन एयर फ्लाइट जेटी-610 स्थानीय समयानुसार सुबह करीब 6:20 बजे टेकऑफ के 13 मिनट बाद समुद्र के ऊपर गुम होता दिखाया गया। गायब होने से पहले प्लेन 5000 फीट की ऊंचाई तक पहुंच चुका था, लेकिन कुछ ही देर बाद उसकी ऊंचाई लगातार कम होती गई। संपर्क टूटने से ठीक पहले विमान करीब 3650 फीट की ऊंचाई पर था। साथ ही इसकी स्पीड भी बढ़ रही थी।

भारत लौटना चाहते थे कप्तान भव्य सुनेजा

दिल्ली के मयूर विहार में रहने वाले सुनेजा ने स्थानीय एल्कॉन पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की थी। मार्च 2011 में उन्होंने इंडोनेशिया की लॉयन एयर में नौकरी शुरू कर दी जहां वो बोईंग 737 उड़ाते थे। भारत में बोईंग 737 का संचालन करने वाली एक एयरलाइन कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट ने बताया कि 31 साल के सुनेजा भारत लौटना चाहते थे।

विमान मे सवार कुल 189 यात्रियों मे १७८ व्यसक, १ बच्चा, २ नवजात, २ पायलट और ५ फ्लाइट अटेंडेंट शामिल थे| विमान के बारे मे फिलहाल कोई जानकारी अब तक प्राप्त नहीं हुई है| सर्च ऑपरेशन जारी है |

Facebook Comments

,

Leave a Reply