बिहार में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में 360 लोगों पर मामला दर्ज, 15 गिरफ्तार


बिहार के भोजपुर जिले में एक लड़के की हत्या में शामिल होने के संदेह में उग्र भीड़ द्वारा एक महिला के कपड़े फाड़ने और उसे निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 15 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है|

इस मामले में 300 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है. जानकारी के मुताबिक, नामांकन के लिए पटना आ रहे एक लड़के का शव जिले के बिहिया में रेड लाइट एरिया के पास रेलवे ट्रैक के पास मिला| इसके बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा| गुस्सायी भीड़ ने रेड लाइट एरिया के कई घरों में आग लगा कर उत्पात मचाया| साथ ही एक महिला को आरोपित करते हुए निर्वस्त्र कर घुमाया गया|

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने बताया कि यह घटना रविवार को लापता हुए विमलेश शाह का शव सोमवार को रेलवे ट्रैक के नजदीक बरामद होने के बाद हुई| उन्होंने बताया कि शाह के गांव दामोदरपुर के लोगों ने उसका शव बरामद होने के बाद रेड लाइट एरिया में रहने वालों पर उसकी गला घोंट कर हत्या करने का संदेह व्यक्त किया| थाना क्षेत्र के बिहिया नगर स्थित बिहिया रेलवे स्टेशन के पूर्वी छोर पर रेल ट्रैक के किनारे रेड लाईट एरिया के समीप मंगलवार को इंटर कक्षा के छात्र का रहस्यमय स्थिति में शव मिलने के बाद गुस्साये परिजनों और भारी संख्या में जुटे ग्रामीणों ने जमकर बवाल किया |

इस दौरान उपद्रवियों ने रेड लाईट एरिया के कई घरों व बाईक में आग लगा दी और जमकर पथराव किया| लोगों ने इस दौरान एक घर के सामने रखे बाईक और साइकिल को भी आग के हवाले कर दिया| मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस पर भी जमकर पथराव करते हुए पुलिस को खदेड़ दिया| इस दौरान उपद्रवियों ने बक्सर से पटना की ओर जा रही 63220 डाउन ईएमयू और 12791 डाउन सिकंदराबाद-पटना एक्सप्रेस समेत इस रूट से गुजरने वाली कई ट्रेनों पर जमकर पथराव किया, जिसमें कई यात्रियों के जख्मी होने की आशंका जतायी जा रही है| आग बुझाने के लिए मौके पर पहुंची दमकल गाड़ी के कर्मियों और दमकल वाहन पर भी जमकर पथराव किया, जिससे दमकल कर्मी भाग खड़े हुए|

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि भीड़ ने पास से गुजर रही ट्रेन पर भी पथराव किया| उन्होंने बताया कि घटनास्थल पर पहुंची पुलिस को हिंसा पर उतारू लोगों को नियंत्रित करने के लिए हवाई फायरिंग करनी पड़ी| भीड़ की ओर से भी गोलीबारी की गयी| उन्होंने वहां स्थिति को नियंत्रण में बताते हुए कहा कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज किये जाने के साथ भीड़ में शामिल लोगों की शिनाख्त कर उनकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास जारी है|

क्या है पूरा मामला

नगर के रेडलाईट एरिया के पास रेल ट्रैक के पास सोमवार की दोपहर में स्थानीय लोगों ने एक युवक का शव देखा| युवक की पहचान शाहपुर थाना क्षेत्र के दामोदरपुर निवासी गणेश साह के पुत्र विमलेश कुमार साह (16 वर्ष) के रूप में की गयी| युवक के परिजनों ने बताया उक्त लड़का इसी वर्ष मैट्रिक की परीक्षा पास की थी तथा कंप्यूटर में एडमिशन लेने के लिए रविवार को आरा गया था| बताया कि रविवार को रात नौ बजे मोबाइल पर उससे बात हुई थी, जिसके बाद से वह घर नहीं पहुंचा और सोमवार को उसका शव रेड लाईट एरिया के पास पाया गया| परिजनों और ग्रामीणों का आरोप था कि रेड लाइट एरिया में रहनेवालों ने ही उसकी हत्या कर के शव को रेल लाईन के समीप फेंक दिया है| इससे लोगों का गुस्सा रेड लाइट एरिया के घरों पर केंद्रित था|

शव की सूचना के बाद भी काफी देर से पहुंची पुलिस

रेल ट्रैक के किनारे शव पाये जाने की सूचना देने के बाद भी बिहिया पुलिस और जीआरपी पुलिस देर से शाम में पहुंची| दोनों हीं पुलिस एरिया को लेकर आपस में ही उलझ गयी, जिससे इस दौरान भारी संख्या में जुटे लोगों ने पुलिस को शव उठाने से रोक दिया और आसपास के घरों के दरवाजा, खिड़की तोड़ते हुए आग लगाना शुरू कर दिया. उपद्रवियों ने इस दौरान कई गुमटीनुमा दुकानों में आग लगा दी और बाइक और साइकिल को भी जला दिया| पुलिस पर जमकर पथराव करना शुरू कर दिया, जिससे पुलिस भाग खड़ी हुई| इस दौरान लोगों ने गुड़िया थियेटर की महादलित मालकिन की जमकर पिटाई की और उसे निर्वस्त्र कर पिटाई करते हुए नगर में घुमाना शुरू कर दिया| बाद में कई थानों की पहुंची पुलिस ने किसी तरह भीड़ के हाथों से उसे बचाया और उसका इलाज कराया| बाद में पुलिस पुनः रेड लाइट एरिया के समीप पहुंची और उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए चार राउंड हवाई फायरिंग की पर पुनः उपद्रवियों ने रेल ट्रैक की गिटियां पुलिस पर बरसाना शुरू कर दिया, जिससे पुलिस को भागना पड़ा| उपद्रवियों ने आग बुझाने के लिए पहुंची दमकल वाहन पर भी जमकर पथराव किया, जिससे दमकल कर्मी वहां से भाग खड़े हुए|

जिला मुख्यालय से पहुंचा पुलिस बल भी दुबका रहा

लगभग तीन घंटों तक उपद्रव मचे रहने के बाद जिला मुख्यालय आरा से भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची और उपद्रवियों पर लाठी बरसाना व खदेड़ना शुरू किया, परंतु यहां भी उपद्रवी पुलिस पर भारी पड़े और रेल ट्रैक की तरफ से पुलिस पर जमकर पथराव करने लगे| इससे पुलिस पुनः घरों की आड़ में दुबक गयी. लगभग एक घंटे के बाद शाम लगभग आठ बजे आरा से और भी संख्या में पुलिस बल बिहिया पहुंची, तब पुलिस ने चारों तरफ से घेराबंदी कर उपद्रवियों को खदेड़ना शुरू किया, तब जाकर उपद्रवी वहां से भाग खड़े हुए| पुलिस ने इस दौरान लगभग आठ चक्र हवाई फायरिंग भी की, जिससे उपद्रवियों में भगदड़ मच गयी. रात आठ बजे उपद्रवियों के भागने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और युवक का शव उठाकर थाने लायी| पुलिस ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम कराया| पूरी घटना के दौरान स्थानीय लोगों में दहशत मचा रहा और लोग अपने घरों में दुबके रहे| बताया जाता है कि घटना के दौरान आग लगने वाले एक घर में रसोई गैस का सिलेंडर भी ब्लास्ट हो गया| हालांकि, इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है|

क्या कहते हैं भोजपुर के आरक्षी अधीक्षक

पूरे घटनाक्रम पर नजर रख रहे भोजपुर एसपी अवकाश कुमार ने बताया कि उपद्रवियों की पहचान कर उन पर कार्रवाई की जायेगी| दोषियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जायेगा| आरक्षी अधीक्षक ने थानाध्यक्षों समेत आठ पुलिसकर्मियों को किया सस्पेंड भोजपुर एसपी अवकाश कुमार ने कार्रवाई करते हुए बिहिया थानाध्यक्ष कुंवर प्रसाद गुप्ता और जीआरपी आरा थानाध्यक्ष अशोक कुमार को तत्काल सस्पेंड कर दिया| घटना के बाद बिहिया पहुंचे भोजपुर एसपी ने बताया कि मामले में लापरवाही बरतने को लेकर उक्त कारवाई की गयी है|

Facebook Comments

, , , , , , , , ,

Leave a Reply