बनारस मे हुआ बेहद दुखद हादसा,निर्माणाधीन पुल ध्वस्त,12 लोगों की मौत


बनारस में बेहद दुखद हादसा हुआ है| निर्माणधीन पुल के ढह जाने से उसके नीचे सैकड़ों लोग दब गये है| इनमें से कई लोगों के मरने की आशंका जताई जा रही है| फिलहाल, सबको निकालने की कोशिश जारी है|

शुरुआती जानकारी के मुताबिक इस हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई है| वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है और बीजेपी यहां लगातार विकास करने के लिए प्रतिबद्ध नजर आती है|सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख जताया है|

माना जा रहा कि इस पुल के नीचे दबने से 50 से अधिक लोगों की मौत हो सकती है| अधिकतर पुल के किनारे से जा रहे लोग इसमें दबे हैं| बता दें कि यह घटना कैंट स्टेशन के सामने फ्लाईओवर के पिलर गिरने से हुई है|

इस मामले में सेतु निगम की बड़ी लापरवाही देखने को मिली है| कई लोगों के घायल होने की सूचना मिल रही है| इसके अलावा कई वाहन चपेट में आ गए हैं| मौके पर अफरा तफरी का माहौल सैकड़ों लोग दबने की आशंका जताई जा रही है|




प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने 30 अगस्त, 2014 को काशी-क्योटो पैक्ट पर समझौता किया| जिसके तहत दोनों देशों को इन दोनों शहरों के बीच ऐतिहासिक विरासत का संरक्षण, शहरी आधुनिकीकरण और संस्कृति के क्षेत्र में सहयोग करना था|

वादे को पूरा करने के लिए केन्द्र सरकार ने स्टीयरिंग कमेटी बनाई जिसे वॉटर, वेस्ट, सीवर और ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट के लिए जापानी टेक्नॉलजी और मदद लेनी थी| क्योटो शहर के म्युनिसिपल डिपार्टमेंट के सहयोग से शहर के एतिहासिक विरासत को संभालने का ढांचा तैयार किया गया और क्योटो यूनिवर्सिटी और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के बीच शोध संपर्क स्थापित करने का मसौदा तैयार किया गया|

Facebook Comments

Leave a Reply