एक बार फिर तूफ़ान का क़हर, देशभर में कई लोगों की गई जान, 4 दर्जन से ज़्यादा ज़ख़्मी


आंधी-तूफान का कहर अभी थमता नजर नहीं आ रहा है| तेज हवाएं और बारिश अब जानलेवा होती दिख रही हैं| रविवार की शाम को मौसम एक बार फिर क़हर बनकर बरपा| खतरनाक मौसम की वजह से मुल्क के अलग-अलग हिस्सों में 4 बच्चों समेत 40 लोगों की मौत हो गई| जबकि करीब 40 लोग ज़ख़्मी हुए हैं| ये मौतें उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में हुई हैं|

दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे उत्तर भारत और दक्षिण भारत के साथ पश्चिम भारत में कई स्थानों पर शाम होते ही आसमान में धूल भरे बादल उमड़ आए| दिल्ली के आसपास के इलाकों में शाम 5 बजे ही अंधेरा छा गया| तेज हवाओं के कारण कई जगहों पर पेड़ टूटकर गिर गए| आंधी-अंधड़ से यातायात भी बुरी तरह से प्रभावित हुआ| शाम करीब साढ़े चार बजे आसमान काला हो गया| राष्ट्रीय राजधानी में धूल के साथ तेज हवा चलने लगी और बारिश होने लगी| तापमान में करीब 10 डिग्री की गिरावट आ गई|

आंधी की वजह से शहर में जगह-जगह कई पेड़ गिर गए| नजफगढ़, ट्रांजिट कैंप, नेहरु प्लेस, उत्तम नगर के मोहन गार्ड, पालम के राजनगर में दीवार ढह जाने की घटनाएं सामने आईं| इन दुर्घटनाओं में एक महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई और करीब 18 लोग घायल हुए हैं|

उत्तर प्रदेश में 18 की मौत

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में आज आई आंधी में 18 लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए| कासगंज में पांच, बुलंदशहर में तीन, गाजियाबाद और सहारनपुर में दो दो तथा इटावा, कन्नौज, अलीगढ, संभल, हापुड और नोएडा में एक एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है| उन्होंने बताया कि संभल में 13 लोग घायल हुए जबकि औरैया में पांच और बुलंदशहर में दो तथा कासगंज, कन्नौज, हापुड, नोएडा, सहारनपुर में एक एक व्यक्ति घायल हुआ है|

बुलंदशहर में बिजली गिरने से 10 झोपड़ियों में आग लग गई| इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है| गाजियाबाद में लाल कुआं में शिव मंदिर के पास एक पड़े गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई और 4 अन्य घायल हो गए|



मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी संबद्ध जिलाधिकारियों और आयुक्तों को निर्देश दिया है कि प्रभावित लोगों को तत्काल राहत मुहैया करायी जाये और घायलों के उपचार की व्यवस्था की जाए|

मौसम विभाग ने चेतावनी दी थी कि इस आंधी तूफान से बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, संतकबीरनगर, बस्ती, फैजाबाद, सुल्तानपुर, आजमगढ़, अंबेडकरनगर, मऊ, देवरिया, बलिया, गाजीपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, इलाहबाद, संतरविदास नगर, वाराणसी, चंदौली, मिर्जापुर और सोनभद्र जिले प्रभावित हो सकते हैं| रामपुर के जिलाधिकारी ने मौसम को देखते हुए सोमवार को सभी स्कूल बंद रखने के निर्देश जारी किए हैं|

आंध्र प्रदेश में भी 9 की मौत

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम और कडपा जिले में बिजली गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए| श्रीकाकुलम जिले में सात लोगों की मौत हो गई जबकि कडपा जिले में दो लोगों की मौत हुई और तीन घायल हो गए| श्रीकाकुलम के विभिन्न हिस्से में दोपहर के बाद बारिश हुई और वज्रपात हुआ|

पश्चिम बंगाल में बिजली गिरने से 10 मरे

बंगाल में रविवार को दोपहर बाद आंधी तूफान के साथ जोरदार बारिश हुई और कई जगह बिजली गिरने से पांच किशोरों सहित 10 लोगों की मौत हो गई| हावड़ा जिले के उलबेरिया में बिजली गिरने से चार किशोरों की मौत हो गई इसके अलावा नादिया और पश्चिम मिदनापुर जिले में दो-दो लोगों की मौत हो गई और मुर्शिदाबाद में एक व्यक्ति की मौत हो गई|

Facebook Comments

Leave a Reply