स्मार्टफोन के इस्तेमाल से हो सकती हैं ये 5 बीमारियां


आज के समय में हर दिन एक नयी तकनीक का आविष्कार हो रहा है, जिसने हमारी ज़िन्दगी में अपनी एक ख़ास जगह बना ली है। उन्हीं में से एक है स्मार्टफोन। मॉडर्न लाइफस्टाइल का हिस्सा बनते-बनते स्मार्टफोन्स अब जरूरत बन चुके हैं।

हर कोई स्मार्ट बनने के लिए स्मार्टफोन का सहारा ले रहा है। स्मार्टफोन का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है और इसी के साथ बढ़ रही हैं स्मार्टफोन से होने वाली बीमारियां। बड़े लोगों से लेकर बच्चों तक सभी को स्मार्टफोन से लगाव हो रहा लेकिन वो लोग इसके इस्तेमाल से होने वाले नुकसान से अनजान हैं।

आइए आज हम आपको स्मार्टफोन के इस्तेमाल से होने वाली कुछ बीमारियों के बारे में बताते हैं, जिनके घेरे में शायद आप भी आ चुके हैं:

स्किन इंफेक्शन और एलेर्जी

स्मार्टफोन के स्क्रीन पर कई तरह के कीटाणु होते हैं, जिन्हें आंखों से देखना मुश्किल होता है। ये कीटाणु स्मार्टफोन के जरिए हमारे शरीर और स्किन में घुसकर नुकसान पहुंचा सकते हैं। इससे आपको स्किन एलर्जी जैसी परेशानियों से जूझना पड़ सकता है और ये आपको बीमार भी कर सकते हैं।

नींद की कमी और सिरदर्द

कई अध्ययन में पाया गया है कि स्मार्टफोन्स का इस्तेमाल सिरदर्द और अनिंद्रा का कारण बन सकता है। इसमें मौजूद रेडियंस आपकी बीमारी की वजह बनते हैं। इसके अलावा दुनियाभर में ऐसे बहुत से लोग हैं जो सोने से पहले कई घंटे फोन का इस्तेमाल करते हैं। जिससे नींद पर असर तो पड़ता है साथ ही स्क्रिन पर फोकस करने की वजह से सिरदर्द हो सकता है।



टेक्स्ट नेक की शिकायत

स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने वाले लोग रीढ़ की हड्डी में होने वाली समस्याओं से परेशान रहते हैं। स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते वक्त लोग गर्दन नीचे झुका लेते हैं जिससे रीढ़ की हड्डी में दर्द हो सकता है। इस तरह की समस्यां को टेक्स्ट नेक नाम दिया गया है।

आंखों की रोशनी मे कमी

रंगीन और अधिक रोशनी वाले स्मार्टफोन की स्क्रीन आंखों की रोशनी को काफी नुकसान पहुंचाती है। इसकी लाइट और फॉन्ट साइज की वजह से आंखों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

हाथों और उंगलियों से जुडी तकलीफें

स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते वक्त तनाव या सिरदर्द ही एक मात्र परेशानी नहीं है। लगातार ज्यादा समय तक स्मार्टफोन का इस्तेमाल आपके हाथों, उंगलियों और कोहनी को भी नुकसान पहुंचाता है। इसके इस्तेमाल से ब्लड सर्कुलेशन पर फर्क पड़ता है, हाथों और उंगलियों में पहुंचने वाले खून का बहाव कम हो सकता है। जिससे कई तरह की बीमारियों के होने का खतरा पनपता है।

Facebook Comments

Leave a Reply