अमनमणि के खिलाफ शिकायत लेकर याेगी के जनता दरबार पहुंचे फरयादी को किया गया आउट


यूं तो योगी सरकार लोगों का दर्द जानने के लिए जनता दरबार लगाती है, लेकिन जब दरबार में ही फरियादियों को दर्द मिलने लगे तो क्‍या होगा?

एेसा ही कुछ हुआ है सीएम योगी के जनता दरबार में, जहां शिकायत लेकर आए एक व्यापारी को दरबार से भगा दिया गया। इतना ही नहीं बल्कि शिकायत से जुड़ी फाइल को भी बाहर फेंक दिया गया।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर दौरे के दूसरे दिन जनता दरबार लगाया। इस लखनऊ के आयुष सिंघल सीएम से विधायक अमन मणि के खिलाफ 22.2 बिगहा जमीन कब्जा करने की शिकायत लेकर पहुंचे।




आयुष का आरोप है कि सीएम ने उसकी समस्या नहीं सुनी और शिकायत से जुड़ी फाइल फेंक दी। आयुष का कहना है कि वह इससे पहले भी कई बार सीएम से मिल चुका है, तब उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया था। लेकिन इस बार साफ तौर पर कार्रवाई न होने की बात कह दी।

उन्होंने कहा कि मैं महाराज जी के पास बड़ी उम्मीदों से गया था। एेसा करके वो लोगों की उम्मीदों को तोड़ रहे हैं। पिछली सरकार से भी उन्होंने न्याय की गुहार लगाई थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। नई सरकार बनी तो कुछ उम्मीद जगी। लेकिन इस सरकार में भी निराशा ही हाथ लगी है।

Facebook Comments

You may also like:  सीएम योगी के आगमन पर बनाई गई सड़क चुरा ले गए चोर
, ,

Leave a Reply